सेक्सी वीडियो सपना की

मोबाईल चे फायदे व तोटे मराठी निबंध

मोबाईल चे फायदे व तोटे मराठी निबंध, ‘अच्छा बाबा, मैंने आपको माफ़ किया… अब खुश?’ मैंने फिर से उसका चेहरा अपने हथेलियों में लिया और उसकी आँखों में देखते हुए कह दिया। कमली रोज़ काम करने आती थी और अखिल से पूछती रहती थी कि बीवीजी कब आएँगी. कमली और उसके पति ने उनका वासना का भूत ऐसा उतारा था कि कमली को देख कर अब उन्हें रोमांच के बजाय वितृष्णा होती थी. उन्होंने तय कर लिया था कि इस बार वे बच जाएँ तो भविष्य में किसी परायी स्त्री कि तरफ आँख उठा कर भी नहीं देखेंगे.

उफ़ अब तो मुझे बहुत दर्द हो रहा था, मेरा दिल चिल्लाने को कर रहा था मगर थोड़ी ही देर में चुदाई फिर शुरू हो गई। मैं दोनों के बीच चूत और गाण्ड की प्यास एक साथ बुझा रही थी और वो दोनों जोर जोर से मेरी चुदाई कर रहे थे। उन्होंने कहा- हाँ करता हूँ.. लेकिन हीरा क्या पता.. तुम्हारी फ्रेंड्स वहाँ चैट ही करती हैं.. या कुछ और देखती हैं.. आई मीन कि एक्ट्रेस की फोटोज वगैरह..

अम्मा की जांघों के बीच बैठकर मैने पहली बार पास से मा की बुर देखी मोटी फूली, काले काले घुंघराले बालों से भरी बुर मे से मस्त महक आ रही थी मंजुने दो उंगलियों से मा की बुर खोली और लाल लाल छेद मुझे दिखाया उसमे से घी जैसा चिपचिपा पानी बह रहा था उपर लाल लाल अंगूर जैसा दाना था मोबाईल चे फायदे व तोटे मराठी निबंध खेमराज- हाँ तो इसमें गलत क्या बोला.. साली नहीं आती तो गोली का असर लौड़े पर होता.. साला फट ही जाता लौड़ा.. तो अब खाऊँगा.. लो तुम दोनों भी खा लो.. मज़ा आएगा।

बिहार के सेक्सी वीडियो हिंदी

  1. उन दोनो के होंठ अब भी एक दूसरे से चिपके हुए थे और उस लड़के के हाथ कभी उसके पेट पर तो कभी उसके दोनो नितंबो को सहला रहे थे. सफेद कलर वाली विधवा की सारी अलग हो कर ज़मीन पर गिरी हुई थी और उसकी बीवी इस समय सफेद कलर के ब्लाउस और क्रीम कलर का पेटिकोट मे थी.
  2. बूढ़ा- बेटी इस तरह रास्ते में खड़ी होकर ये हरकत ठीक नहीं.. अगर इतनी ही खुजली हो रही है तो चलो मेरे साथ घर पर.. कुछ मलहम लगा दूँगा। हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो एचडी
  3. हाय राम ! कब से मैं इसे चूसने के लिये बेकरार थी। मैंने गड़प से उसका लण्ड मुख में ले लिया और आँखें बन्द करके चूसने लगी। उसने भी अपने चूतड़ हिला कर अपने लण्ड को मुख में हिलाया। डॉली- ओह.. आंटी के पास आप का जाना जरूरी है.. मगर मैं वहाँ क्या करूँगी.. दो दिन बाद इम्तिहान हैं.. मैं यही रहकर पढ़ाई करती हूँ।
  4. मोबाईल चे फायदे व तोटे मराठी निबंध...फिर उसने मेरी ब्रा भी उतार दी और मेरी कमीज़ और ब्रा उठा कर उस बिस्तर पर फैंक दिया.. जिसके नीचे हसन भाई छुपे थे। जैसे ही मैंने देखा, उसने अपने चेहरे पे मुस्कराहट बिखेर दी और अपनी आँखें बड़ी बड़ी करके बिना पलकें झपकाए देखने लगी… दो पल के बाद उसकी आँखों को मैंने फिर से डबडब होते देखा।
  5. मैं फिर मुस्कुरते हुए हीना से बोला, ठीक है, लेकिन अब यह बताओ कि तुम्हारा और चुदाई का प्रोग्राम है या फिर इतनी जल्दी-जल्दी ड्रिंक पी कर नशे में धुत्त होने का इरादा है! मैंने डरते-डरते उसकी तरफ़ देखा तो वो मुस्कुराने लगी। बस मैं तो फिर शेर बन गया फौरन उठा और डोर को लॉक किया और शाज़िया को उठा कर अपने सीने से लगाया। उसकी काफी तारीफ की, उसके सैक्सी जिस्म की काफी तारीफ की और उसने भी मुझे ज़ोर से पकड़ लिया था।

ब्लू पिक्चर पंजाबी ब्लू पिक्चर पंजाबी

नही देखेंगे मैने फिर उसे अपनी तरफ खींचा और हाथ सीधा उसकी कमीज़ के अंदर घुसा कर उसकी नंगी चूचियों को पकड़ लिया.

तभी उसकी माँ आ गई जो एक बहुत बदनाम औरत थी, उसके कई चक्कर थे और मैंने कई बार उसको दूसरे मर्दों के साथ देखा था। कमली उनके चेहरे को आश्चर्य से देखने लगी. उसे समझ में नहीं आया कि इस मेहरबानी का क्या कारण हो सकता है. उसने पूछा, ‘‘आप क्यों देगें, बाबूजी?’’

मोबाईल चे फायदे व तोटे मराठी निबंध,वो गुर्राया। उसकी इस आवाज़ ने जैसे मुझे बेहोशी में से उठाया हो और मैंने भागने की नाकाम कोशिश की। फिर उसने मेरे एक मम्मे को छोड़ के मेरे गीले हो चुके बालों से मुझे खींचा।

मैने रघू पर चढकर अपना लंड उसकी गान्ड मे पेल दिया सटाक से सुपाडा अंदर हो गया बहुत टाइट छेद था सिसक कर मैने पूरा ज़ोर लगाया और पक्क से जड तक लंड रघू के चूतडो के बीच उतार दिया

सब कुछ नॉर्मल रहा और छुट्टी हो गई। प्रिया और डॉली एक साथ बाहर निकलीं। मैडी भी उनके पीछे-पीछे चलने लगा।सेक्सी बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ व्हिडीओ

डॉली- उफ़फ्फ़ सस्स आह्ह.. मेरी चूत में आह्ह.. इससे भी ज़्यादा रस है.. आह्ह.. उसको चूसो ना.. उफ्फ और आह्ह.. मुझे भी उफ्फ सस्स अपना लौड़ा चुसाओ.. बहुत मन हो रहा है। दो मिनट बाद डॉली की चूत ने पानी का फव्वारा खोल दिया.. उसके साथ ही सुधीर भी आँखें बन्द करके झड़ने लगा.. मगर उसके लौड़े से बहुत कम पानी बाहर निकला और उसमें कोई रफ्तार भी नहीं थी।

संजीदा मेरी चूत को देखने लगी। मैंने कहा, अब तुम भी एक बार मोनू से चुदवा लो। अगर तुम्हें इससे चुदवाना पसंद नहीं आयेगा तो तुम फिर मोनू से कभी मत चुदवाना।

फिर तो बुआ मुझे अक्सर अपनी चूत में लंड डालने का अवसर देने लगी और कभी कभी तो हम ब्ल्यू फिल्म देख कर उसके अंदर के दाव आजमाते थे….पिछले साल बुआ की शादी हो गई और उस शादी में सब से दु:खी शायद में ही था……दोस्तों आपको यहाँ कहानी कैसी लगी….?,मोबाईल चे फायदे व तोटे मराठी निबंध बाद मे मैं यह कई बार करने लगा मा को नहीं बताया कि वह नाराज़ ना हो जाए मंजू तो फिदा हो गयी थी मुझपर, जब भी मैं कहता हाजिर हो जाती उसने भी यह बात रघू से छुपा कर रखी मेरे मुँह मे मूतना उसके लिए इतना मस्त काम था कि वह यह उसे पूरा गुप्त रखना चाहती थी

News