సెక్స్ బ్లూ ఫిలిం తెలుగు

भाभी को पटाकर चोदा

भाभी को पटाकर चोदा, मै - दीदी आपकी चूत ने तो मुझे पागल कर दिया है आःह्ह | इतना मजा तो मुझे पूरी जिंदगी में कभी नहीं मिला | रामू की बात सुनकर मैं डर गई की कहीं ये मेरी गाण्ड का इस्तेमाल तो नहीं करना चाहता ना? थोड़ी ही देर पहले मैंने उसकी दी हुई सी.डी. में देखा भी था- नहीं रामू, प्लीज़... मेरे मुँह से इतने ही शब्द निकले।

रीमा - कितने जालिम होते हो तुम मर्द, औरत को दर्द देकर कितना खुश होते हो | जरा भी तरस नहीं आया मुझ पर कितना चीख चिल्ला रही थी | कितना दर्द हो रहा था मुझे और तुम गिरधारी को भड़काने में लगे थे | मैंने सोच लिया की चाहे कुछ भी हो जाय, मैं इस होटेल में नहीं जाऊँगी। मुझे याद आया मैं जीजू के साथ। होटेल युवराज में गई थी। अब्दुल को वहां आना है तो ठीक है, नहीं तो मैं निकल जाऊँगी।

उसके बाद रीमा ने उसके सुपाडे को कसकर ओठो से जकड लिया | ओठ बंद करके सुपाडा चूसने लगती, जैसे बच्चे टॉफी चूसते है , और धीरे धीरे अपना सर हिलाने लगी ,प्रियम कामुक लम्बी कराहे भर रहा था | भाभी को पटाकर चोदा मैं दूसरा झटका मारने के लिए लण्ड पीछे खीचा और उसके पहले ही निरु उच्छल कर आगे खिसक गयी और मेरा लण्ड निरु की गांड के बाहर आ गया। पीछे मुडते हुए निरु के मुँह से निकला

ब्लू पिक्चर का वीडियो दिखाइए

  1. जीत तो तुमसे सकता नहीं, आपाहिज जो हूँ इसलिए और पीट लो | मालिक जो हो, मेरा भाग्य तुमारे हाथ में जो है |
  2. रीता- नहीं यार। पहले मुझे कोई पसंद नहीं आ रहा था और अब मुझे कोई पसंद नहीं कर रहा... रीता ने निराशा के सुर में कहा। योनीला खाज सुटणे उपाय
  3. जितेश - भोसड़ी के मै भी तेरी गांड की ऐसे ही खुजली मिटाऊ तब समझ में आएगा | बहुत हो गया तेरा अब तू हाथ हिलाकर अपनी पिचकारी निकाल | बहुत देर तूने रीमा की मक्खन मलाई जैसी गांड का सुख लूट लिया | आआआआआआआआआआआअ, ...............आआआआआआआआआआआअह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह..........आआआआआआआआआअह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह..........आआआआआआआआआअह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह..........आआआआआआआआआअह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह..........आआआआआआआआआअह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह |
  4. भाभी को पटाकर चोदा...उसके सवाल से मैं सोच में डूब गई की क्या जवाब दें? मुझे कालेज के वो दिनों की याद आ गई, जब जावेद ने। मुझसे दोस्ती करने को कहा था- हम आपके पापा की दोस्त हैं बेटा... रामू जब से नीचे बैठा था तब से मैं इस पल का इंतेजार कर रही थी। मैंने जितना सोचा था उससे कहीं ज्यादा उत्तेजना मेरी नशों में दौड़ने लगी।
  5. दीदी की ये बात सुनकर मुझे आश्चर्य हुवा। मैंने कहा- कौन से जमाने की बात कर रही हो दीदी? संतान के लिए ही सेक्स होता है ऐसा किसने कहा? दीदी इंटरेस्ट जगाओगी तो इंटरेस्ट होगा और साथ में जीजू आपसे प्यार तो बहुत करते ही हैं वो और भी बढ़ जाएगा... मैंने दीदी को समझाते हुये कहा। दूसरे दिन दोपहर को मैंने एक गलती कर दी। रामू घर का काम कर रहा था और मैं बेडरूम बंद करके अंदर सो रही थी। तभी रामू की आवाज आई- काम खतम हो गया मेमसाब, मैं जा रहा हूँ...

सिद्धार्थ गार्डन औरंगाबाद

मै तो वैसे ही ऋतू दीदी के नए रूप का दीवाना हो चुका था तो उनकी पैंटी और ब्रा उठा कर मैंने सूँघ ली और जैसे नशा सा चढ़ गया। मैंने अपना शॉर्ट्स नीचे किया और ऋतू दीदी की पैंटी को अपने लण्ड पर रगड़ कर अपनी थोड़ी इच्छा शांत की। इसके बाद मैं नहाने चला गया। बाहर आया तो ऋतू दीदी ने बोला की

मैं- वाह मेरे पातिदेव वाह.. तुम्हारे पापा हमें घर खर्च के लिए भी कम पैसे दें तो उनकी इज़्ज़त मेरी नजरों से कितनी कम हो गई है वो तुम्हें मालूम है और मैं बाहर काम पे जाऊँ तो दुनियां के सामने उनकी इज्ज़त कम होगी वो तुम्हें मंजूर नहीं होगा। इंसान की इज्ज़त पहले घर में होनी चाहिए बाद में बाहर... थोड़ी देर तक मैं और रामू ऐसे ही जमीन पर लेटे रहे, और फिर मैं खड़ी होकर बेड पे आ गई। मेरे पीछे रामू भी ऊपर मेरी दो टांगों के बीच में आ गया। मैंने भी उसके आते ही मेरी टांगों को चौड़ी कर दी थी। रामू मेरी गर्दन को चूमते चाटते हुये उसके लण्ड का टोपा मेरी चूत के द्वार पे घिसने लगा।

भाभी को पटाकर चोदा,मुझे असमंजस में देखकर अब्दुल ठहाके लगाकर हँसा और बोला- टेन्शन मत लो रानी, नंगी तो तुम होगी लेकिन मैं नहीं करूंगा... इतना कहकर अब्दुल रुक गया।

हवा अच्छी थी जिसकी वजह से पतंग उड़ाने वालों को मजा आ रहा था। मुझे पप्पू का खयाल आया तो मैंने बाजू की छत की पानी की टंकी पे नजर डाली कि पप्पू कहीं दिख रहा है की नहीं? वो नहीं था, शायद वो चला गया होगा।

कुछ देर बाद वो मेरी जांघों तक नीचे झुका, उसने मेरी चूत पे किस ली तो मेरे मुँह से मादक सिसकारी निकल गई- आह्ह...marie-josée croze nude

मैं- थोड़ी देर ठहर जाओ ना... मैंने उसकी बात मानते हुये कहा और वो तो मेरी हाँ है ये जानकर पागल हो। गया। इतना सुनते ही जग्गू जोश से भर गया लेकिन उसको यह सोच कर कि घिन और उबकाई आ रही थी कि प्रियम की गांड से निकला प्लास्टिक का लंड उसे अपने मुंह में लेना है |

रीमा ताना मारते हुए - तुमने मेरे सारे कपड़े उतारे तुमने मुझे नंगा किया तुमने मुझे पूरी तरह से देख लिया, सर से लेकर पैर तक | अब परमिशन क्यों मांग रहे हो |

रीमा - इसकी खड़ी होने की इक्षा है तो इसे खड़ा क्यों नहीं करता, चल इसको हाथ में ले और मुठिया, तब तक मुथियाता रह जब तक पूरी तरह खड़ा न हो जाये |,भाभी को पटाकर चोदा दर्द उसकी जांघो और पिंडलियों में घर कर गे और मिली का बदन फिर कांपने लगा | उसकी वासना झाड़ने लगी | आआआआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् सर माआईईईईईइ तो झ झाझाझाझाझाझाड़ड़ड़ड़ड़ड़ड़ड़ रही हूँ |

News