हिंदी बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स

দেশি বৌদি চোদোন

দেশি বৌদি চোদোন, साला मेरी ग़लतियो की लिस्ट पकड़ के बैठ बया है...अब जान निकाल कर ही दम लेगामैने अंदर ही अंदर बहुत ज़ोर से चिल्लाया... भू हाथ मे एक बड़ी सी बोतल लेकर आया और बोलालवडा बोतल छुते ही नशा चढ़ गया, आयईी साला चल घुमा गाड़ी उस बनिये के दुकान की तरफ....

धत्त तेरी की...अब एक और झंझट...रुक थोड़ी देर सोचने दे मुझे....मैं फिर अरुण से थोड़ी दूर आया और वहाँ पास मे लगे छोटे-छोटे पौधो की पत्तियो को मसल्ते हुए ये सोचने लगा कि अब क्या करू....कैसे मालूम करू, वो सब कुच्छ...जो गौतम ने फर्स्ट एअर मे किया था..... दारू, सिगरेट इन सबको छुआ भी तो सोच लेना....भाई की इस अड्वाइज़ का हाल पहले वाली अड्वाइज़ की तरह था....

गुड आफ्टरनून सर...इरादा तो नही था लेकिन फिर भी मैं वरुण से बोला, क्या पता साला खुश हो जाए और मुझे बचा ले.... দেশি বৌদি চোদোন मेरे स्टेज पर आने के इन्विटेशन से वो लड़का सकपका गया और मुझे आँखे दिखाते हुए वापस अपनी जगह पर बैठ गया....

தமிழ் சிஸே வீடியோ

  1. व्हाट दा हेल...मैं अंदर ही अंदर चीखा ,चिल्लाया....क्यूंकी वहाँ बैठे दोनो लड़को मे से एक के सर मे तो एक के हाथ मे पट्टी बँधी हुई थी....
  2. तेरे घर मे नौकर भूत है क्या,जो कभी दिखते नही..या फिर घर का सारा काम तुझे करना पड़ता है....जाते-जाते उसके चेहरे पर मुस्कान लाने की कोशिश करते हुए मैने कहा....चल आजा, कल रात वाला गेम खेलते है... बीएफ सेक्सी हिंदुस्तानी
  3. ये तो बहुत ही बढ़िया जोक है...जा हॉस्टिल जाकर मेरे पॅंट से चिल्लर पैसे निकाल कर बीड़ी पीने के लिए रख लेना...ऐश कर,तू भी क्या याद रखेगा कि किस दौलतमंद आदमी से पाला पड़ा था.... पेपर ईज़ी था, फिर भी थोड़ी बहुत मिस्टेक हर क्वेस्चन मे हुई, एग्ज़ॅमिनेशन हॉल से मैं बाहर निकला तो कॉरिडर मे दीपिका मॅम आती हुई दिखाई दी, हल्के पिंक कलर का सलवार उनपर बहुत जच रहा था, उन्हे मेरी नज़र ने नीचे से देखना शुरू किया और फिर आँखो मे जाकर रुकी....
  4. দেশি বৌদি চোদোন...मुझे मालूम था...बोलकर मैने आराधना की जीन्स उसके घुटनो तक नीचे खिसका दी और उसकी पैंटी के अंदर हाथ डाल कर उसकी चूत सहलाने लगा....साथ मे वो वर्ल्ड फेमस काम भी किया जिसे लोग 'उंगली करना ' कहते है क्या बे, ये लोंड़िया तो तुझे चोद के चली गयी...साले लौन्डो का नाम बदनाम कर दिया तूने,आज के बाद बात मत करना मुझसे...
  5. आगे थोड़ी दूर पर एक क्लिनिक है..कहो तो डॉक्टर से कन्सल्ट करके एक पाय्सन ले लो...रात मे फिर अच्छी नींद आएगी...निशा फिर चिढ़ने वाले अंदाज़ मे बोली... लेकिन सर, वो लड़की मुझे ज़रा भी पसंद नही है... मतलब कि वो गौतम की करीबी है और आपको तो पता ही होगा कि हमारे बीच क्या हुआ था...पुरानी कब्र खोदते हुए मैने अपना पक्ष मज़बूत करना चाहा...ताकि छत्रपाल मान जाए.

हिंदी कॉलेज सेक्सी वीडियो

तुम मे से कोई एक बाहर आओ...साहब को बात करनी है...सलाँखो के दूसरी तरफ से हवलदार ने गेट खोला और हमसे बोला....

इतने मे ही जहाँ कुच्छ देर पहले राजश्री पांडे बैठ कर फिशिंग कर रहा था, उससे थोड़ी दूर पर बैठे दूसरे कॉलेज के एक लौन्डे ने एक बड़ी मछलि फसाई और उसे अपने दोस्तो को बड़े शान से दिखाने लगा.... तुम क्या सोच रहे हो...वो काँपती हुई आवाज़ मे मेरी तरफ देखकर बोली...जवाब मे मैने अपने दूसरे हाथ की उंगलियो को अपने होंठो पर रखकर इशारा किया कि मैं होतो को अपने होंठो मे भरना चाहता हूँ....मेरे इशारे से निशा थोड़ी अनकंफर्टबल हुई और मुझे कुछ देर तक ना जाने क्या देखती रही.....

দেশি বৌদি চোদোন,क्या....दिल एक बार फिर तेज़ी से धड़का...और मैने एश की तरफ देखा, अरुण सच बोल रहा था वो मेरे तरफ ही देख रही थी...उस वक़्त मुझे ऐसा लगा जैसे की वक़्त ठहर गया हो, उस वक़्त मुझे ऐसा लगा कि वहाँ उस क्लास रूम मे मेरे और उसके सिवा कोई नही है....

जैसा कि मेरा अनुमान था वॉर्डन हमारे कॅंप मे आया ,लेकिन आधे घंटे बाद और जैसे ही वॉर्डन हमे देख कर वापस अपने कॅंप मे घुसा तो हम 6 लोग ,तुरंत उस पहाड़ी से नीचे उतर कर डॅम के किनारे पर पहुँचे....उस पहाड़ी से नीचे उतरने मे हम सबके पसीने छूट गये थे और हाँफने भी लगे थे.

देख एक काम कर...चुप चाप काल्टी हो जा...वरना वो बम्बू पूरा का पूरा अंदर डाल दूँगा,एक इंच भी बाहर नही रहेगा...और यदि तू फिर भी नही माना तो तेरे शर्त के 2000 भूल जाना...सेक्सी वीडियो बहन भाई

तेरी *** की चूत ,साली रंडी,कुतिया...छिनार...उसकी आँखो मे देखते हुए मैने आँखो से ही कह दिया और वहाँ खड़े सभी लड़को की तरफ देखकर उची आवाज़ मे कहाचलो रास्ते मे मैं तुम सबको आ वॉक टू दा जंगल....की कहानी सुनाउन्गा.... मुझे अपना जीन्स देने के बाद ,अरुण ,सौरभ के पास गया और उससे भी वही सवाल पुछा,जो कुच्छ देर पहले उसने मुझसे पुछा था....जब सवाल सेम था तो आन्सर भी सेम ही होगा और ऐसा ही हुआ .

हम दोनो फिर से चुप हो गये थे. उसकी घोसना और मेरी स्वीकारोक्ति की भयावहता हम दोनो को ज़हरीले नाग की तरह डस रही थी. हम यकायक बहुत गंभीर हो गये थे. सब कुछ खुल कर सामने आ चुका था और हम एक दूसरे से क्या चाहते थे इसका संकेत सॉफ सॉफ था मगर हम फिर भी चुप चाप बैठे थे, दोनो नही जानते थे आगे क्या करना चाहिए.

अब जब मैने और मेरे दोस्तो ने ये डिसाइड कर लिया कि हम लोग इस पूरे चका-चौंध से दूर रहेंगे तो तभी बॅस्केटबॉल का कोच सामने आया और उसने कहा कि जिस-जिस को भी बॅस्केटबॉल खेलना आता है,वो यहाँ आ जाए....और ये सुनते ही मेरे अंदर घंटी बजी...लेकिन मैं फिर भी नही उठा...,দেশি বৌদি চোদোন ओये...रुक...अबे रुक मुझे भी जाना है...सिटी बस जब सामने से गुज़र गयी तो मुझे जैसे एका एक होश आया ,लेकिन सिटी बस तब तक बहुत दूर जा चुकी थी.....

News