भोजपुरी बीएफ साड़ी में

বিপি সেক্সি পিকচার

বিপি সেক্সি পিকচার, भले ही उसकी चूत में इस समय दर्द था, लेकिन चेहरे पर पीड़ा के स्थान पर एक अपार सुकून दिखाई दे रहा था, जो एक मुस्टंडे के 9 के हथियार ने उसकी टोटकों और नुस्खों के कारण सुख चुकी चूत को फिर से हरा-भरा कर दिया था…! उसके होंठों से चूमना शुरू करके वो उसे नीचे तक चूमती चली गयी.., अपने बेटे का गोरा सुर्ख कसरती बदन किसी कामदेव से कम नही लग रहा था इस समय…

लाला ने रंगीली को एक करवट से लिटाया, और उसकी टाँग उठाकर पीछे से अपना मूसल उसकी रसीली चूत के मूह पर रख कर अपनी गान्ड को आगे सरका दिया… रात के 9 बजे मैं घर पहुंचा और सिमरन को बोलते हुए की मैं ऋषभ के साथ खाना खा चुका हू , अपने कमरे मैं चला जा रहा था तभी सिमरन.....

सुषमा को उसकी ये बात कुछ ज़्यादा ही नागवार गुज़री, वहीं सेठानी का तो स्वभाव ही अपनी बेटी से मेल ख़ाता था…! বিপি সেক্সি পিকচার आज पता नहीं क्यों मैं भी नहीं चाहता था परिधि मेरे नज़रों से दूर हो इसलिए जब परिधि किसी से अकेले मिलती तो मैं इशारे से बुला लेता।

డాక్టర్ సమరం గారి

  1. शंकर ये शब्द सुनकर सुषमा उसे बलिहारी नज़रों से देखने लगी, वो मन ही मन सोचने लगी, देखो कितना संस्कारी और सिन्सियर लड़का है ये, भला हो रंगीली काकी का जिन्होने मेरे सम्बंध इसके साथ बनवा दिए…!
  2. आज का दिन मेरे लिए बहुत ही अच्छा रहा जंहा एक ओर रूही ने मेरी जिंदगी मुझे वापस लौटा दी वही मैंने अपने दोस्त के बेज्जती का बदला ले लिया। पर प्यार तो अभी भी अधूरा था । महाराष्ट्रातील महामंडळे
  3. क्यों ! किसी को मुँह क्यों नही दिखा पाएगी तू ? माँ-बापू क्यों मार डालेंगे तुझे…? ऐसा क्या जुर्म किया है तूने..? मासीऔर माँ कल की तैयारियों में लगी थी। पापा और मौसा जी बाहर का काम देख रहे थे चूँकि मेरे मौसा की फैमिली और मेरी फैमिली सभी रिस्तेदारों मैं काफी क्लोज थी इसलिए हम सब घर पर थे बांकियों का इन्तज़ाम पास के होटल में किया गया था ।
  4. বিপি সেক্সি পিকচার...थोड़ी देर में गुल्लन और जमुना घर से विदा हो चले गये. राणाजी अपने कमरे में आये तो माला को देख देखते ही रह गये. माला की खूबसूरती उन्हें आकर्षित किये जा रही थी. मन करता था उसे अपने गले से लगा लें. लाजो ने अपने मुँह से जबाब देने की वजाय, अपने लाल-लाल लिपीसटिक से पुते होंठों को ससुर के होंठों से जोड़ दिया, लाला के हाथ उसकी चुचियों पर कसते चले गये…
  5. जैसे तैसे स्कूल का समय पूरा करके शंकर अपने स्कूल बॅग को आगे रखकर सीधा स्कूल के पीछे की झाड़ियों की तरफ भागा, उसने पाजामा खोलकर मूत की धार मारी, तब जाकर उसे कुछ शांति मिली… शंकर फिर से उसके रूप लावण्य में खो गया…, मौका ताडकर सुषमा ने अपनी टाँगों का ऐसा पोज़ बनाया जिससे उसकी साड़ी का नीचे का पल्ला और ज़्यादा नीचे हो गया, और उपर का भाग तंबू की तरह दोनो घुटनों पर तन गया…

ઈંગ્લીશ ફિલ્મ ઈંગ્લીશ

8 बजे ऋषभ भी आ गया फिर दीदी को बोलकर हम भी निकल लिए । डिस्को पहुंचा तो पूरा ग्रुप था सामने , सबने अपना टिकट पास दिखाया और हम डिस्को के अंदर चले गए । डांस फ्लोर पर सभी लड़के लडकिया डांस कर रहे थे ।

उसने चोंक कर लाला की तरफ देखा, उनकी बात उसे अच्छी नही लगी सो थोड़े तल्ख़ लहजे में बोली – क्या मतलव है आपका..? हम सब दिए समय पर रेडी हो गए पर 2:30 pm तक्। अबतक घर के सभी लोग खाना खा कर या तो रेस्ट कर रहे थे या अपने कामों में लगे थे । चिढाने का पहला प्रोसेस यंही से शुरू हो रहा था इसलिए सुनैना मेरे पास आते ही.....

বিপি সেক্সি পিকচার,जब शॉपिंग मॉल पहुंच तो गुंजन भागते हुए किसी एक ओर जा रही थी मैं बस गुंजन को यूँ जाते देख मैं भी उसके पीछे जाने लगा पर सुनैना मुझे लगातार किसी दूसरी तरफ चलने का बहाना कर रही थी..

इससे पहले कि वो इस मस्ती को कुच्छ देर और फील करती, की लाला जी बोले - हाथ पहुँच गया तेरा रंगीली उपर तक…?

रंगीली चमेली की सुहागरात के सीने में इस कदर खोई हुई थी, मानो चमेली की नही उसकी सील टूटने वाली हो, सो उसने एक झुर झुरी सी अपने अंदर महसूस की,कमी दाबाचा पट्टा म्हणजे काय

लाला – हां रानी, जैसे मेने तुम्हारी चूत को चूसा था, तुम्हें मज़ा आया था ना.., ऐसे ही इसे चूसने में और मज़ा आएगा…! रंगीली ने उसके चेहरे के नीचे हाथ लगाकर उसे उपर किया, फिर उसकी आँखों में झाँकते हुए बोली – तू अपनी माँ के लिए ऐसी गंदी सोच रखता है नालयक, शर्म नही आई तुझे…!

ये सुनकर सुषमा मन ही मन खुश होते हुए बोली – क्या शंकर भैया, ये सलौनी क्या कह रही है, ऐसा मत किया करो वरना बेचारी लड़कियाँ तुम्हारे बारे में क्या सोचेंगी…!

बाहुत दिन हो गए थे अपनी धूल से जमी किताबों को छुए तो आज सोचा क्यों न कुछ धूल साफ़ कर दी जाए । करीब 11बजे मैं अपने स्टडी रूम से बहार आया । हॉल में सुनैना बैठी थी और माँ से बातें कर रही थी।,বিপি সেক্সি পিকচার अपने बेटे के लंड की मालिश बंद किए उसे 6-8 महीने से भी ज़्यादा समय हो गया था, तब भी उसके मतवाले हथियार को देख कर वो गरम हो जाती थी, फिर अब तो वो कुछ और ही दमदार हो गया होगा…!

News