फ्री फायर गेम ऑनलाइन डाउनलोड

औरत औरत की चुदाई

औरत औरत की चुदाई, इसलिए मैं अपने आप को समझाने लगी. किसी का भी किसी दूसरे को नींद में झडते हुए देख कर एग्ज़ाइटेड या गरम हो जाना स्वाभाविक है. ये किसी पॉर्न मूवी देखना जैसा ही था. तो फिर मैने क्या ग़लत किया था? क्या भैया को इस तरफ छुप कर देखना ग़लत था? मैने अभी अभी भैया को नींद में झड्कर पानी निकालते हुए देखा था. मैं कुर्सी से खड़ा हुआ और उसे अपनी तरफ खींच कर गले से लगा लिया। वो कसमसा कर मुझसे छूटने लगी और इस खींचातानी में मेरे हाथों में फिर से उसकी चूचियाँ आ गई और मैं उन्हें दबाने लगा। उसने ब्रा पहन रखी थी इसलिए चूचियाँ सख्त लग रही थीं। मैं मज़े से दबा रहा था और वो मेरे हाथ हटा रही थी….

आह... नही, बुआ कभी नही. मेरे मूँह से किसी तरह ये शब्द बाहर निकले, तभी बुआ ने मेरे लंड को अपने मूँह में भर लिया. दीदी ने हां में सिर हिलाया और फिर थोड़ा हँसी. हां... लेकिन पता नही, मुझे तो बहुत अच्छा लगता है, मुझे तुम बहुत अच्छे लगते हो और सब कुछ अच्छा लगता है. तुम कहीं फिर से परेशान तो नही हो?

दीदी: मैने नेट पर इस सब के बारे में सर्च किया तो मालूम पड़ा कि जो तुम उस दिन कह रहे थे वो शायद सही है, मुझे तुम लड़कों की शारीरिक ज़रूरतों का अंदाज़ा नही था, औरत औरत की चुदाई मिली ने अंदर कुछ पहना तो था नहीं तो उसके नर्म मुलायम मम्मों को अपनी छाती पर पाकर मेरा जोश बढ़ गया और तभी मिली ने मेरा चेहरा अपने हाथों में पकड़ा और मेरी आंखों में देखते हुए मेरे लबों पर अपने गुलाबी होंठ मिला कर चूमने लगी.

बीएफ हिंदी में डाउनलोड

  1. अगली सुबह उठकर मैं सबसे पहले डॉक्टर के पास अपनी बॅंडेज खुलवा कर जब वापस घर आया, तो मेर हाथों को बिना बॅंडेजस के देख कर मौसी के चेहरे पर मुस्कान आ गयी, शायद वो भी इस सब से फ्री होकर, अपनी पुरानी दुनिया में, गाओं वापस लौटना चाहती थी.
  2. लेकिन मैं उससे ज़्यादा बात करके उलझना नही चाहता था इसलिए मैं दूसरी तरफ करवट लेकर लेट गया और बोला सोने का टाइम हो गया है मिली चल अब सो जा हिंदी ब्लू फिल्म भेजो
  3. नानाजी:= उम्म्म वाह माधवी आज तुमने जिस तरीके से मेरे लंड को चूसा है वैसे किसीने आज तक नहीं चूसा....मजा आ गया। नानाजी:=अरे बहोत मजा आया ...तुम दोनों के साथ मुझे बहोत मजा आया। इसलिए तो कह रहा हूँ की तुम दोनों मुझे मेरी बीवी की याद दिला देती हो।
  4. औरत औरत की चुदाई...ya kisi bhai-behan ya kisi bhi apno ke beech lekin in sambandho ka maalumat is kameene ko kaise chal jata hai yaar yahi samajh nahi aa raha.......faraz wohi sofey pe baith gaya...ab ashu bhi thoda chintit tha नाना2 ने आखरी झटका मारा मेरी चूत के अंदर और अपना गरम गाढ़ा वीर्य मेरी चूत में छोड़ने लगे। मैंने भी अपनी गांड को ऊपर उठा के उनके लंड पे चिपका दिया।
  5. मैंने उसकी जांघ पर पप्पियों की बौछार कर दी, उसके मुँह से सिसकारियाँ निकलने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मेरा बांका छोरा तो पहले ही पूरी तरह से अकड़ा हुआ था और उसके हाथों में जाते ही ठनकना शुरू हो गया उसका। रिंकी ने एक बार मेरी तरफ प्यार से देखा और मेरे होंठों पे अपने होंठ रख दिए…

मिया खलीफा massanutten military academy

जब भी कोई लड़की पहली बार चुदवाती है तो सील टूटने के कारण उसे दर्द होता ही है वो तो अच्छा हुआ कि तेरा धक्का इतना तेज नही था वरना मेरी चीख इतनी तेज होती कि सारा मोहल्ला जाग जाता क्योंकि उस वक्त मैं चुदाई के लिए तैयार नही थी मिली मेरे लंड की मूठ मारती हुई बोली

मामा:- क्या क्यू?? वो मेरे पास आके मुझे कमर से पकड़ के अपनी और खीचा ....माधवी जब से उस दिन तुम्हारे साथ वो सब किया है उस दिन से बस तुम्हारे बारे में सोच रहा हु...स्स्स्स इन चुचियो को दबाया है इस चूत का रस पिया है और.... नानाजी:= नहीं सच में ये तुम्हारे जिस्म की खुशबू अह्ह्ह्ह और ये तुम्हारा संगेमरमर सा बदन उफ्फ्फ्फ्फ़ देख के ही लंड खड़ा हो जाता है।

औरत औरत की चुदाई,मैंने उसका स्कर्ट छोड़ कर उसके चूत को अपनी दो उँगलियों से फैला दिया और अन्दर के गुलाबी भाग को अपनी जुबान से चाटने लगा...

करीब 10 मिनट में मैं झड़ गई, पर खुद पर जल्दी से काबू करते हुए मैंने अमर का साथ फिर से देना शुरू कर दिया।

मुझे लगता है, मेरे को अगली बार का वेट करने की ज़रूरत नही है, तान्या मुस्कुराते हुए बाथरूम के फ्लोर पर घुटनों के बल बैठते हुए, और अपने होंठों के बीच धीरज के लंड को लेते हुए बोली.लिंग खड़ा करने के उपाय

achanak wo chehra muskuraya ye wohi taxiwala tha....arre tum yahan?........sheetal ne sawali nigaho se muskuraya तो फिर ठीक है! उन्होने अपने हाथ को हम दोनो के बीच लाकर मेरे लंड को नीचे से अपनी मुट्ठी में भर लिया, और अपनी गान्ड हिलाने लगी. अभी एक बार फिर से करोगे?

तुमने और तान्या ने सारे दिन क्या किया? डॉली ने बात बदलने के इरादे से पूछा, जिस से धीरज उसकी और राज की चुदाई की और ज़्यादा डीटेल ना पूछ ले.

मैने उनकी कमर के नीचे उनके लंड वाले हिस्से को देखा, और फिर उनके चेहरे की तरफ. उनका लंड खड़ा हुआ था. सब को पता चल रहा है, कुछ छुपा हुआ नही है, मैने मुस्कुराते हुए जवाब दिया.,औरत औरत की चुदाई मैने डॉली दीदी की धीरज का सूटकेस रेडी करने में उनकी मदद की. धीरज जब सूटकेस लेकर चला गया, उसके बाद मैं नहा कर अपने रूम में एक झपकी मारने के लिए बेड पर लेट गया. दीदी अपने किचन के काम में बिज़ी थी.

News